दुबई में शकीरा का शिकार

मैं एक बिज़नसमैन हूँ अपने एक जरूरी काम से दुबई गया था, वहीं मैं एक डिस्को में चला गया। वहाँ एक पाकिस्तानी लड़की मेरे पास आई, अपना नाम शकीरा बताया और डांस के लिए पूछा। दोस्तो, मैं राजवीर जयपुर से, चोद्काम डॉट कोम का मैं नियमित पाठक हूँ। वैसे तो मैंने अपनी लाइफ में बहुत सारी कहानियों की रचना करने लायक करतब किए हैं लेकिन आज मैं अपनी पहली कहानी आपके सामने प्रस्तुत कर रहा हूँ।  Hindi Sex Stories, Indian Sex Stories, Hindi Font Sex Stories, Desi Chudai Kahani, Free Hindi Audio Sex Stories, Hindi Sex Story, Gujarati sex story, chudai

रात को डिस्को में चला गया

मैं एक बिज़नसमैन हूँ अपने एक जरूरी काम से दुबई गया था आज से 3 साल पहले! वहाँ मैं अपने एक दोस्त के अपार्टमेंट में ठहरा था तब वो अपने किसी काम से यूरोप गया हुआ था और मैं दुबई में अकेला ही था।

पहले दिन मैं अपना काम निपटा कर अपार्टमेंट पर बोर हो रहा था तो रात को डिस्को में चला गया।
वैसे तो दुबई में बहुत से क्लब और डिस्को हैं पर वहाँ ‘खालिद बिन वालिद’ नाम से एक एक बहुत बड़ा रोड है जिस पर बहुत सारे होटल, क्लब हैं, वहीं मैं एक डिस्को में चला गया।

loading…

मैं थोड़ा जल्दी चला गया था करीब दस बजे… तब ज्यादा भीड़ नहीं थी पर धीरे धीरे भीड़ बढ़ने लगी, लड़कों से ज्यादा लड़कियाँ थी लेकिन वहाँ गोरी चमड़ी वाली कम और अफ्रीका वाली ज्यादा थी, बहुत सारी पाकिस्तानी भी थी।

मैं वहीं बैठ कर ड्रिंक कर रहा था, तभी एक लड़की मेरे पास आई और मुझे ड्रिंक पिलाने के लिए कहा।
मैंने उसके लिये ड्रिंक मंगवाई।
उसका फिगर मस्त था पर वो अफ्रीका से थी, मुझे पसंद नहीं आई लेकिन वो जबरदस्ती मुझे डांस करने के लिए फ्लोर पे ले आई।

वो पाकिस्तानी थी

वैसे वहाँ पर पहले से लोग डांस कर रहे थे, वो बहुत ही क्लोज़ डांस कर रही थी बिल्कुल चिपक कर अपनी गांड की दरार में मेरे लौड़े को दबा रही थी।
मेरा लौड़ा अब अपने शवाब पर आने लगा था।

वैसे मैं आपको बता दूँ, मेरे लौड़े का साइज 7 इंच का है और जब वो अपने शवाब पे आता है तो किसी की फाड़ के ही रहता है।
मुझे वो लड़की पसंद नहीं थी तो मैं थोड़ा साइड में आ गया।

तभी एक लड़की मेरी तरफ आती हुई दिखी, वो पाकिस्तानी थी, एकदम मस्त माल 5’5″ की, उसका साइज होगा 32-26-36, उसने आकर अपना नाम शकीरा बताया मुझे और डांस के लिए पूछा।
मैंने कहा- नेकी और पूछ पूछ!
और हम डांस करने लगे।

क्या मस्त डांस कर रही थी वो… मेरा तो कंट्रोल में ही नहीं हो रहा था।
फिर हम वापस काउंटर के पास आकर ड्रिंक करने लगे।

तभी उसने पूछा- कहाँ चलोगे, मेरे यहाँ या फिर तुम्हारे यहाँ?
मैंने पूछा- मतलब?
तो उसने कहा- 800 दिरहम लूँगी।

मैं समझ गया कि ये तो साली रांड है, वैसे भी दुबई जैसे जगह पे कोई भी हो, ये तो आम बात है।
मैंने सोचा- मस्त माल है, क्या फ़र्क पड़ता है कोई भी हो!
मैंने उसे 500 दिरहम में मना लिया और हम लोग मेरे अपार्टमेंट पे आ गए।

शकीरा आते ही नहाने चली गई और वापस सिर्फ तौलिये में ही बाहर आई और मुझे कहा- अब तुम नहा कर आओ।
और वो बेड पे बैठ गई।

फिर मैं नहा कर आ गया, मैं भी सिर्फ तौलिये में ही बाहर आ गया।
मैंने उसे वाईन ऑफर की।
फिर हमने एक एक पैग लगाया।

शकीरा मेरे पास आकर किस करने लगी।

खुदा की कसम, क्या रसीले होंठ थे… दस मिनट तक हम लोग चूमाचाटी करते रहे फिर हटकर उसने कहा कि आज तक उसने किसी के साथ इतनी देर तक किस नहीं किया उसे बहुत अच्छा लगा।

फिर उसने मेरा तौलिया हटा दिया और मेरी टांगों के बीच में बैठकर मेरे लौड़े को हिलाने लगी।
शेर फिर से दहाड़ उठा और वो उसे मुँह में लेकर चूसने लगी।

फिर मैंने भी उसका तौलिया निकाल दिया।
एकदम मस्त बदन था यारो… शकीरा के बोबे एकदम टाईट और चुचूक टाईट हो गए थे।
हम लोग बेड पर आकर 69 की पोजीशन में आ गए।

मुझे चूत चाटना बिल्कुल भी पसंद नहीं है, मैं उसकी चूत में अपनी 2 अंगुलियाँ कर रहा था और शकीरा मेरे लौड़े कि मस्त चुसाई कर रही थी।
मुझे लग रहा था कि जैसे मेरा सारा रस निकाल कर ही छोड़ेगी।

तभी मैंने कहा कि मैं आने वाला हूँ और उसने मेरा सारा माल गटक लिया।
मेरी ऊँगली करने और चूची की चुसाई करने से वो भी अपना रज छोड़ चुकी थी।

हमने एक एक पैग और लगाया और वो मेरे लौड़े को फिर से खड़ा करने लगी।
5 मिनट में ही शेर शिकार के लिए तैयार था।

शकीरा बेड पर लेट गई और इशारे से मुझे ऊपर आने के लिए कहने लगी।
मैंने उसकी टांगें थोड़ी फैलाई और बीच में आकर अपने लंड को उसकी चूत के मुँह पर लगाया और थोड़ा अंदर डाला तो उसकी सिसकारी निकल गई और उसने अपनी गांड उचका कर आधे लंड को गटक लिया।

फिर मैंने उसका हाथ पकड़ कर जोर से धक्का मारा और लौड़ा पूरा अंदर चला गया।
मुझे उसकी बच्चेदानी महसूस हो रही थी।
धीरे से उसकी चीख निकल गई और उसने मुझे कर कर पकड़ लिया।
फिर मैं उसके चूचे चूसने लगा और दूसरे हाथ से जोर जोर से दूसरा बोबा मसल रहा था।

धीरे धीरे में उसकी चूत में लंड को आगे पीछे करने लगा, वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी।
ए.सी. में भी हम लोग पसीना पसीना हो गए थे।

फिर मैंने पोजीशन बदली और उसे घोड़ी बना कर अबकी बार एक बार में ही पूरा लंड उसकी चूत में पेल दिया।
वो चिल्ला उठी, बोली- भोसड़ी के, धीरे से नहीं डाल सकता? फाड़ डाली मेरे चूत को!

मैंने कहा- मैं क्या करूँ… आज तक तुझे कोई सही लंड ही नहीं मिला जो तेरी चूत को भोसड़ा बना सके!
और मैं उसे जोर जोर से चोदने लगा।
यह कहानी आप चोद्काम डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !

loading…

15 मिनट तक चोदने में वो 2 बार झड़ चुकी थी।
अब मेरा भी होने वाला था तो मैंने कहा- मैं आने वाला हूँ।
तो शकीरा ने कहा- मेरे मुँह में देना!
और उसने झट से लंड को मुंह में लिया, चूसने लगी और तब तक नहीं छोड़ा जब तक एक एक बूंद नहीं गटक ली।

एक मस्त राउंड के बाद हमने एक एक पैग और लगाया फिर सारी रात उसको बजाया, सुबह 4 बजे तक 3 बार उसको चोदा।

और फिर डिस्को में मिलने का वादा कर के शकीरा 500 दिरहम लेकर चली गई।

अगले दिन मैं बीच पर घूमने गया तब मैंने वह एक रशियन से दोस्ती की और उसे हिन्दुस्तानी लंड का सुख दिया।
वो कहानी अगली बार!
तब तक मुझे इजाजत दीजिए।

मेरी कहानी कैसी लगी, मुझे ईमेल करके जरूर बताइएगा, आपके मेल मुझे मेरी अगली कहानी लिखने के लिए प्रेरित करेंगे।
आपका दोस्त।

आप के ईमेल के इन्तजार में आपका दोस्त।
chodkam.com@gmail.com

निचे डिस्कस कमेंट्स में भी आप अपने विचार जरुर प्रकट कीजिये ।
सबसे मजेदार और हॉट एंड सेक्सी हिन्दी सेक्स कहानियाँ की अपड़ेट पाने के लिए हमें फेसबुक पर LIKE करे ।  
    
दोस्तो आज की लेटेस्ट सेक्स कहानी पढने के लिए यहाँ क्लीक करे.. निचे दिए गए बटन पर क्लिक करे और इस कहानी को मित्रो में शेयर करे ।
loading…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *